Jael and Sisera — Artemisia Gentileschi

Biblioklept

ArtemisiaJaelSiserax1R

18 And Jael went out to meet Sisera, and said unto him, Turn in, my lord, turn in to me; fear not. And when he had turned in unto her into the tent, she covered him with a mantle.

19 And he said unto her, Give me, I pray thee, a little water to drink; for I am thirsty. And she opened a bottle of milk, and gave him drink, and covered him.

20 Again he said unto her, Stand in the door of the tent, and it shall be, when any man doth come and enquire of thee, and say, Is there any man here? that thou shalt say, No.

21 Then Jael Heber’s wife took a nail of the tent, and took an hammer in her hand, and went softly unto him, and smote the nail into his temples, and fastened it into the ground: for he was…

Ver o post original 10 mais palavras

Anúncios

International Women’s Day!

❣Emotional Queen👑

#womania #life #blog #respect #womensday #proud #blessed


अच्छा..तो आज हमलोगों का दिन हैं। वाह! क्या बात है इस समाज ने हमारे लिए एक दिन निर्धारित किया है,काबिल-ए-तारीफ़ हैं ये तो और क्या चाहिए हमें बोलों भला!…साल के 364 दिन भले हमारे इज़्ज़त की ऐसी की तैसी करो।लेकिन 8मार्च को सम्मान तो देना हीं पड़ेगा आपको हमें और आप बखूबी दे रहें हैं…सुबह से ही सारा माहौल महिलामय हो गया है,अखबार,विभिन्न समाचार चैनल,सोशल मीडिया..और इससे परे आधुनिक समाज का नियमित हिस्सा बनता जा रहा ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स हर जगह महिला दिवस की शुभकामनाओं से अटी पड़ी हैं। यहाँ तक की शहरों के मॉल में भी इसे बखूबी मनाया जा रहा,हर चीज़ पर महिला दिवस का टैग लगा के छूट दी जा रही.. हर कोई इस मसले पर आगे आना चाहता है.. लेकिन साल में एक ही दिन ऐसा क्यूँ??

सुबह से हीं इस इज़्ज़त को हम झेल रहें हैं,अब आप सोचेंगे…

Ver o post original 690 mais palavras

Picture an actress playing Trump and an actor playing Clinton reenacting the debates

A restaging of the presidential debates with an actress playing Trump and an actor playing Clinton yielded surprising results. Read about this very interesting social experiment here: What if Donald Trump and Hillary Clinton Had Swapped Genders? I would like to see this possibly turned into a stage production. Video of a rehearsal below. Hat […]

via Picture an actress playing Trump and an actor playing Clinton reenacting the debates — PoliTech

अबला और सबल ,के बीच बढ़ चली स्त्री चाँद तक ,मौन तोड़ कर …अपने सपने ख़ुद बना रही है , बुन रही है ख़ुद ही … चूल्हा चौकी से बाहर एक संसार ,वो सफ़ल हो रही है हर कदम पर ,पुरुष का पौरुष भी उन से हैं ,उस वृक्ष का सृजन वही हैं ,उसे नहीं चाहिए , पत्थरों में लोग उसे पूजें पूजा पाषाण खण्डों की मोहताज़ नहीं ,पूजा फूल ,फल , रौली की मोहताज़ भी नहीं ,प्रकृति ने जिसे बनाया है वो नायाब है , अद्वितीय है , वो पूजनीय है ,स्त्री पुरुष पूरक हैं एक दूजे के ,श्रेष्ठ बनने के चक्कर में हम भूल गए ,खुद के पूरक होने को , सभ्यताएँ बीत गई बरसों की ,हम कब बदलेंगे ?? नहीं जानता …? माणिक्य बहुगुना